यंत्र शक्ति और साधना

 

यंत्र शक्ति और साधना यंत्र विज्ञान को लेकर लिखी गई पहली पुस्‍तक है। जिसमें यंत्र विज्ञान की सार्थकता व सत्‍यता को लेकर व्‍यापक प्रकाश डाला गया है। पुस्‍तक के प्रारंभ में यंत्र की परिभाषा, यंत्र लेखन के नियम यंत्रों की महिमा एवं विशेषता के बारे में प्रकाश डालते हुए विद्वान लेखक ने सारगर्भित सामग्री प्रस्‍तुत की है। आर्थिक युग में सबको लक्ष्मी की आवश्‍यकता रहती है। लक्ष्‍मी प्राप्ति हेतु श्रीयंत्र, कनकधारा यंत्र, कुबेर यंत्र एवं कर्जनाशक मंगल यंत्र विशेष रूप से उल्‍लेखनीय है। नवग्रह यंत्र साधना एवं रत्‍न जड़ित लक्ष्‍मी यंत्र, गजकेशसरी यंत्र के द्वारा लेखक के व्‍यावहारिक ज्‍योतिष ज्ञान का पता भी सजह चल जाता है। बगुला यंत्र नागपास यंत्र मारुती यंल्‍ एवं पागड़े जीत जैसे अतयन्‍त प्राचीन यंत्रों को नवीन उपलब्धि व सार्थकता के साथ प्रस्‍तुत करके एक नया शोध व चिंतन प्रबुद्ध पाठकों हेतु प्रस्‍तुत किया गया है।