Jeet Lo Khwabo Ko by Joginder Singh

जीत लो ख़्वाबो को

"जि़्ांदगी में बड़ा काम करने के लिए सबसे पहले बड़ा सोचना पड़ता है। जब तक हम बड़ा नहीं सोचेंगे तब तक कुछ नहीं हो सकता। कल की सोच आज की हकीकत है। हर नई खोज़ की शुरुआत सबसे पहले एक सपने या सोच से ही होती है। यही हमारे जीवन का आधर है। ये सोच की ही ताकत है जो हमें किसी एक चीज़ तक सीमित नहीं रखती बल्कि हमें हर चीज का ज्ञान कराती है। ये सोच ही तो है जो इस दुनिया में बदलाव लाकर उसे बेहतर बनाती है। हमारी सोच ही राह दिखाती है पिफर चाहे वो अच्छाई की हो या बुराई की। जो सपने देखते हैं वही दुनिया को जीतते हैं। इसलिए सपने देखो, खुद पर भरोसा करो और जीत लो इस दुनिया को।

जोगिंदर सिंह (आई.पी.एस.) सी.बी.आई. के पूर्व निदेशक हैं। वह एक प्रतिष्ठित लेखक भी हैं। उन्होंने व्यक्तित्व विकास पर कई किताबें लिखकर सम्मान अर्जित किया है। उन्हें टी.वी. चैनल एवं सेमिनार में भाषण देने के लिए भी आमंत्रित किया जाता है। इस पुस्तक में कारगर सुझाव एवं उदाहरण दिए गए हैं जो सभी को अपने सपने को साकार करने में सहायक होंगे। अगर आप में सपने को स्वीकार करने की हिम्मत है तो कोई भी सपना ऐसा नहीं है जिसे पूरा न किया जा सके।"