Books For You

Grow outward, Grow inward

Saubhagya Prapti Ke Durlabh Upay by Upendra Dhakre

सौभाग्य एवं सर्वसुख प्राप्ति के दुर्लभ उपायो पर आधारित



Dekhan Mein Chhote Lage by Upendra Dhakre

जीवन में आने वाली समस्याओ के सरल उपाय



Sukh Samruddhi Ke Durlabh Upay by Upendra Dhakre

जीवन में आने वाली समस्याओ के सरल उपाय



Aapka Bhagya Aapke Hath by Upendra Dhakre

जीवन में आने वाली समस्याओ के समाधान पर आधारित



Navgrah Darpan (Hindi) by Upendra Dhakre

जीवन में ग्रहो के प्रभाव एवं ग्रह पीड़ा से मुक्ति पर आधारित



16 Badhak Yog (Hindi) by Upendra Dhakre

जीवन में आने वाले बाधक योग एवं उनके समाधान पर आधारित

जन्म लेने के बाद से ही व्यक्ति का जीवन संघर्ष प्रारम्भ हो जाता है और जीवनपर्यन्त मृत्यु होने तक यह संघर्ष बना रहता है । यह संघर्ष जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में देखने को मिलता है जैसे जीवित रहने के लिये, आगे बढ़ने के लिये, दायित्वों का निर्वाह करने के लिये तथा भौतिक सुबिथायेँ प्राप्त करने के लिये । यह ऐसे संघर्ष हैं जिनका सामना प्रत्येक सामाजिक प्राणी को करना पड़ता है । जीवन के प्रारम्भ से लेकरमृत्युत्तक एक व्यक्तियों कुछ प्राप्त कस्ना चाहता है अथबा अपने विशेष लदृथों को पूरा करना चाहता है, उसमें प्रत्येक कदम यर अनेक बाधाओं का सामना करना पड़ता है । यह संघर्ष उन बाधाओं को ममाम करने के लिये होता है जो व्यक्ति के लक्ष्य को प्राप्त करने में स्रमस्यायेँउत्यन्नकरतीहैँ ।नाकारजितनेग्रकार को बाधायें होती हैं, उतना ही संघर्ष व्यक्ति को करना पड़ता है । -सम्यांसी एवं पागल व्यक्ति क्रोछोड़करऐसा व्यक्तियहनहींकासकता कि उसके जीवन में किसी साकार को बाधा नहीं है अथवा उसे किसी बाधा का कभी सामना नहीं करनापड़ाहो । 36 बाधक योत्रा पुस्तक में हमने 36 प्रकार की ऐसी बाधाओं का वर्णन किया है जो कम अथवा अधिक रूप में समस्त व्यक्तियों को प्रभावित करती हैं । यह बाधायें केसे होती हैं, इनका स्वरूप केसा होता है, ज्योतिषीय दृष्टि से इन बाधाओं के उत्पन्न होने के यया कारण हो सकते हैं तथा इनसे युक्ति पाम करने के लिये क्या उयायकियेजानेचाहियेगाबकीविवेचना 1 6 बाधक योत्रा पुस्तक में की गई है । मेरा विशवास है कि यह पुस्तक सभी व्यक्तियों के लिये अत्यन्त उपयोगी सिद्ध होगी । ... शनिसाधक्र उपेन्द्र धाकरे



Dhandayak Saral Prayog by Upendra Dhakre

उपायो पर आधारित

जैसे-जैसे समय आगे बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे व्यक्ति के जीवन में धन का महत्व और प्रभाव भी बढ़ता जा रहा है । समस्त व्यक्तियों के जीवन में प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष रूप से धन का हस्तक्षेप प्रत्येक क्षेत्र में रहता है । आज जिस प्रकार से व्यक्ति दी विचारधारा में अन्तर आया है, उसी अनुरूप उसकी जीवनशैली में भी बदलाव आया है । भौतिक सुख- सुदिधाओं के प्रति आकर्षपा पहले से अधिक हुआ है । एक व्यक्ति यह सबकुछ प्राप्त करना चाहता है जो दूसरों के पास तो है , जिन्तु उसके पास नहीं है । इन सबको प्राप्त काने के लिए धन को जितनी आवश्यकता होती है यह उसके पास नहीं होता है । कुछ कारण से अधिकांश व्यक्ति धन से सम्बन्धित विभिन्न प्रकार कीं समस्याओं से धिरे रहते हैं । इस स्थिति में कुछ व्यक्ति अपनी आवश्यकताओं को कम करते हैं तभी कुछ व्यक्ति उनको पहा करने के लिए धन की अलग से व्यवस्था करते हैं । व्यक्ति के बिल्ली भी कार्य को धन से अलग काके देखना सम्भव नहीं है । धन प्राप्ति के जितने मृ प्रयास व्यक्ति के द्वारा जिये जाते है, उनमें से किसी में उसे सफलता प्राप्त होती है और किसी में वह असफल रहता है । धलदायक सरल प्रयोना पुस्तक में उन उपायों की विवेचना को गई है जिनका प्रयोग काने से लस्सी जी की कृपा प्राप्त होती है तथा धन प्राप्त होने के मार्ग प्रशस्त होते है । वर्तमान समय में यह पुस्तक समस्त व्यक्तियों के लिये अत्यंत उपयोगी सिद्ध होगी, ऐसा मेरा विर वास है.



Nazar Dosh Pida Mukti Ke Durlabh Upay by Upendra Dhakre

नज़र दोष से उत्पन्न कष्टो से मुक्ति के दुर्लभ एवं अनुभूत उपायो पर आधारित पुस्तक



Tag cloud

Sign in