Books For You

Grow outward, Grow inward

Vichar Niyamnu Mul Prarthana Beej by Sirshri

વિશ્વાસ બીજ એક અદભુત શક્તિ
પૈસા,સહયોગ,આરોગ્ય,ધ્યાન,જ્ઞાન કેવી રીતે પ્રાપ્ત કરવું
પ્રાર્થના સંસારની એ સૌથી મોટી શક્તિ છે,જે મનુષ્યને સમસ્યા આવે તે પહેલાં જ આપી દેવામાં આવે છે.પ્રાર્થના શા માટે,ક્યારે,ક્યાં,ક્યા આસાન પાર,કેવા ભાવથી,ક્યા શબ્દોમાં અને કેવી રીતે કરવી જોઈએ? પ્રાર્થનામાં ઘણી શક્તિ છે,પ્રાર્થના ચિંતાને ઠંડી અને પથ્થરને મીણ કરી શકે છે.વિશ્વાસ આ વિશ્વની સૌથી મોટી તરંગ છે,જેના લીધે પ્રાર્થનાનું ફળ આવે છે.



ઈશ્વર કોણ હું કોણ - સરશ્રી

આત્મસાક્ષાત્કાર મેળવવાનો માર્ગ

જયારે આપ કહો છો કે 'મેં ભોજન ખાધું'
ત્યારે આપ સ્વયંને શરીર માની રહ્યા છો.
જયારે આપ કહો છો કે 'મને મારો અનુભવ થયો'
ત્યારે આપ સ્વયંને ચૈતન્ય માની રહ્યા છો.
સ્વયંને પૂછી જુઓ કે 'હું કોણ છું?'
પોતાની પૂછપરછ કરો કે શું આપ શરીર છો? શું આપ ચૈતન્ય છો? શરૂઆતમાં આપણે અલગ-અલગ જવાબો આવશે પરંતુ ધીરે-ધીરે આપ પોતાને ઓળખી શકશો,પછી થશે સ્વઅનુભવ,આત્મસાક્ષાત્કાર



जीज़स - एक मुक्तिदाता

Jesus Atmabalidan Ka Maseeha (Hindi Translation of Life And Teachings of Jesus Christ) By Sirshri

जीज़स एक मुक्तिदाता के रूप में जाने जाते हैं I उन्होंने अपने जीवन में कई चमत्कार किए और उनके कष्टों से मुक्ति दिलाई I परंतु आज लोग उनके पृथ्वी पर आने का असली उद्देश्य भूल चुके हैं I यह पुस्तक जीज़स के जीवन व उनकी शिक्षाओं को एक नए दृष्टिकोण से देखना सिखाती है I
इस पुस्तक में आप जानेंगे :

• प्रार्थना का संपूर्ण रहस्य
• जीज़स के महावाक्य व उनका असली अर्थ
• जीज़स की क्रांतिकारी शिक्षाओं के पीछे छिपा अर्थ
• जीज़स की तीन तरह की अवस्थाएँ और शिक्षाएँ:
सन ऑफ मैन,
सन ऑफ गॉड,
सन ऑफ वर्ल्ड
• पनरुत्थान दिवस का असली लक्ष्य
• जीज़स ने सूली पर कौन सा चमत्कार दिखाया

सरश्री की आध्यात्मिक खोज का सफर उनके बचपन से प्रारंभ हो गया था I इस खोज के दौरान उन्होंने अनेक प्रकार की पुस्तकों का अध्ययन किया I इसके साथ ही अपने आध्यात्मिक अनुसंधान के दौरान अनेक ध्यान पद्धतियों का अभ्यास किया I उनकी इसी खोज ने उन्हें कई वैचारिक और शैक्षणिक संस्थानों की ओर बढ़ाया I जीवन का रहस्य समझने के लिए उन्होंने एक लम्बी अवधि तक मनन करते हुए अपनी खोज जारी रखी, जिसके अंत में उन्हें आत्मबोध प्राप्त हुआ I
सरश्री ने दो हज़ार से अधिक प्रवचन दिए हैं और सत्तर से अधिक पुस्तकों की रचना की है, जिन्हें दस से अधिक भाषाओँ में अनुवादित किया जा चुका है.



भगवान बुद्ध - सु-मन और बुद्ध का उच्चतम विकास- बोध प्राप्ति क्र लिए

Bhagwan Buddha (Hindi) By Sirshri

मन और बुद्धि के पार - परम बोध यात्रा.

सिद्धार्थ को जीवन में कुछ ऐसे संकेत मिले, जिन्होंने उन्हें खोजी बन दिया I उन्होंने राजसी जीवन को त्याग दिया और दुःख से मुक्ति की खोज में जुट गए I इस मार्ग पर उन्होंने अपने शरीर को बहुत कष्ट दिए I दोनों प्रकार की अति वाला जीवन जीने के बाद उन्हें एहसास हुआ कि मध्यम मार्ग ही सर्वोत्तम मार्ग है I

सिद्धार्थ ने मन और बुद्धि का सम्यक उपयोग किया और उनके पार गए, इसलिए उन्हें परम बोध प्राप्त हुआ और वे भगवान बुद्ध बने I

यह पुस्तक आपको भगवान बुद्ध के जीवन का रहस्य बताएगी I इस यात्रा में आप जानेंगे :
• सिद्धार्थ कब और क्यों गौतम (खोजी) बने
• गौतम की बोध प्राप्ति की यात्रा कैसे सफल हुई
• बोध प्राप्ति का बाद भगवान बुद्ध की यात्राएँ कैसी थीं
• भगवान बुद्ध ने अपने शिष्यों को कौन सी शिक्षाएँ प्रदान कीं
• भगवान बुद्ध की शिक्षाओं को जीवित रखने के लिए सम्राट अशोक ने कैसे महत्वपूर्ण योगदान दिया

भगवान बुद्ध ने अपने सम्यक ज्ञान से लोगों की मनः स्थिति देखकर उपाय बताए I जिन लोगों ने उन्हें ध्यान से सुना, समझा, उन्होंने बुद्ध के बोध का पूर्ण लाभ उठाया लेकिन जिन लोगों ने बुद्ध के केवल शब्द सुने, वे अपनी मूर्खताओं में लगे रहे I यदि आपने भगवान बुद्ध की शिक्षाओं का असली अर्थ समझ लिया तो यह पुस्तक बोध प्राप्ति के लिए, यानि असली सत्य तक पहुँचने के लिए सरल मार्ग बन सकती है I

इस पुस्तक में भगवान बुद्ध के जीवन को तीन मुख्य किरदारों में पिरोया गया है I पहले किरदार हैं राजकुमार सिद्धार्थ, दूसरे किरदार हैं गौतम और तीसरे किरदार हैं भगवान बुद्ध I भगवान बुद्ध को गौतम बुद्ध भी कहा जाता है लेकिन कभी सिद्धार्थ गौतम नहीं कहा जाता I इन नामों के पीछे भी रहस्य है I इन तीन किरदारों की कहानियों को इस पुस्तक के ज़रिए एक नए और अलग नज़रिए से पढ़ें I

सरश्री की आध्यात्मिक खोज का सफर उनके बचपन में ही प्रारंभ हो गया था I इस खोज के दौरान उन्होंने अनेक प्रकार की पुस्तकों का अध्ययन किया I इसके साथ ही अपने आध्यात्मिक अनुसंधान के दौरान अनेक ध्यान पद्धतियों का अभ्यास किया I उनकी इसी खोज ने उन्हें कई वैचारिक और शैक्षणिक संस्थानों की ओर बढ़ाया I जीवन का रहस्य समझने के लिए उन्होंने एक लम्बी अवधि तक मनन करते हुए अपनी खोज जारी रखी, जिसके अंत में उन्हें आत्मबोध प्राप्त हुआ I
सरश्री ने दो हज़ार से अधिक प्रवचन दिए हैं और सत्तर से अधिक पुस्तकों की रचना की है, जिन्हें दस से अधिक भाषाओँ में अनुवादित किया जा चुका है I



Bachcho Ka Vikas Kaise Kare Ek Kahani Se Seekhein by Sirshri

बच्चों का विकास कैसे करें एक कहानी से सीखें

SON OF BUDDHA

परवरिश और नींव-नियम रहस्य बच्चों की परवरिश कैसे करें - इस विषय पर रोचक तरीके से सिखाने वाला यह एक अनोखा उपन्यास है I इसमें माँ यशोधा, दादाजी सुयोधन और पिताजी सिद्धार्थ मिलकर बेटे राहुल को प्रशिक्षण देकर संपूर्ण रूप से सफ़ल इंसान बनाने का प्रयास कर रहे हैं I वे इस लक्ष्य की तैयारी क्यों और कैसे करते हैं... क्या राजा सिद्धार्थ, अपने पुत्र राहुल को उसके उच्च स्वरुप और नींव का दर्शन करवा पाते हैं? राहुल को गुप्त कक्ष और नींव-नियम का रहस्य वे कैसे बताते हैं ? इन सभी सवालों के जवाब पाएँ इस अदभुत कहानी में I

आज के अभिभावकों के लिए लिखा गया परवरिश पर आधारित यह उपन्यास बच्चों के साथ रहने वाले सभी शुभचिंतक पढ़ सकते हैं I आप भी इस रोचक कहानी द्वारा स्वयं की ट्रेंनिंग कर सकते हैं, जिससे आपकी गलत आदतों को समाप्त करने तथा सद्गुणों का विकास करने की अत्यावश्यकता का निर्माण हो सके I
तो चलिए, सन ऑफ़ बुद्धा की दुनिया में प्रवेश करके जानते हैं कि परवरिश और क्षमा के रहस्य का जादू बच्चों के जीवन में कैसे कार्य करता है !



Swayamno Samno (Gujarati Translation of In Search of Peace) By Sirshri

સ્વયંનો સામનો - સરશ્રી

હરક્યુલિસની આંતરિક ખોજ

પ્રાચિન કાળમાં હરક્યુલિસે એપોલો દેવતાના આશીર્વાદથી પોતાના બાહુબળના જોરે,12 અસંભવ કામોને પાર પાડ્યા.જ્યારે અત્યારના હરક્યુલિસે દેવીમાં દ્વારા પ્રાપ્ત માનસિક શક્તિના જોરે,ખોજ કરીને 'સ્વયંનો સામનો' કર્યો.તેણે આજુબાજુના લોકોની અંદર સાહસ ભરીને પોતાના જેવા કેટલાય હરક્યુલિસ તૈયાર કર્યા.



Jesus Atmabalidan Ka Maseeha (Hindi Translation of Life And Teachings of Jesus Christ) By Sirshri

जीज़स आत्मबलिदान का मसीहा - सरश्री

जीज़स एक मुक्तिदाता के रूप में जाने जाते हैं I उन्होंने अपने जीवन में कई चमत्कार किए और उनके कष्टों से मुक्ति दिलाई I परंतु आज लोग उनके पृथ्वी पर आने का असली उद्देश्य भूल चुके हैं I यह पुस्तक जीज़स के जीवन व उनकी शिक्षाओं को एक नए दृष्टिकोण से देखना सिखाती है I
इस पुस्तक में आप जानेंगे :

• प्रार्थना का संपूर्ण रहस्य
• जीज़स के महावाक्य व उनका असली अर्थ
• जीज़स की क्रांतिकारी शिक्षाओं के पीछे छिपा अर्थ
• जीज़स की तीन तरह की अवस्थाएँ और शिक्षाएँ:
सन ऑफ मैन,
सन ऑफ गॉड,
सन ऑफ वर्ल्ड
• पनरुत्थान दिवस का असली लक्ष्य
• जीज़स ने सूली पर कौन सा चमत्कार दिखाया



Mrityu Uparant Jeevan By Sirshri

મૃત્યુ ઉપરાંત જીવન - સરશ્રી


મૃત્યુ મોકો કે ભ્રમ


મૃત્યુ પ્રકૃતિ દ્વારા પ્રદાન કરવામાં આવેલી એક વિધિ છે,જેના દ્વારા સંસાર લીલાને આગળ ધપાવવામાં આવી રહી છે.આ વિધિ દ્વારા મનુષ્ય પોતાની તરંગ વધારી શકે છે તથા સુક્ષ્મ જગતમાં અભિવ્યક્ત કરી શકે છે.સચ્ચાઈ તો એ છે કે સ્થૂળ શરીરનું મૃત્યુ,સુક્ષ્મ શરીર પ્રાપ્ત કરવાની એક વિધિ છે પરંતુ આ વિધિ જ લોકોના દુઃખોનું કારણ બની રહી છે.


જીવન થી મૃત્યુ ઉપરાંત જીવન અને મૃત્યુ ઉપરાંત જીવન થી મહાનિર્વાણ નિર્માણથી યાત્રા જ હકીકતમાં પૂર્ણ જીવન છે,મહાજીવન છે.આ પુસ્તકમાં આપ મહાજીવનનો અર્થ સમજી શકો છો.




Tag cloud

Sign in