Books For You

Grow outward, Grow inward

कुंडली दर्पण

कुण्डली व्यक्ति के समग्र जीवन,चरित्र और व्यक्तित्व का दर्पण है। इसमें बने बारह कोष्ठक बारह भावो के नाम से जाने जाते है। तथा इनसे स्थित ग्रह और राशियों की स्थिति की व्यक्ति के समग्र जीवन के रहस्यों की सूचक बनती है। जीवन को सभी व्यक्ति समान रूप से चाहते है और इसीलिए आगत को जान लेने की इच्छा होना भी स्वाभाविक है। भविष्य को बतलाने के लिए ज्योतिष ही एकमात्र मन्त्री और मार्गदर्शक हो सकता है। विवाह, व्यवसाय, जीविकोपार्जन एव जीवन के अन्य सभी पक्षों के बारे में ज्योतिष की सहायता लीजा सकती है।



Jyotish Sikhiye by Satyavir Shastri

ज्योतिष के दो प्रमुख क्रियात्मक सिद्धांत है - गणित और फलित। इस पुस्तक में फलित को प्रमुखता दी गई है क्योकि यह गणितय ज्योतिष की अपेक्षा सरल भी है और अधिक उपयोगी भी। फलित का ही ज्योतिष में अधिक महत्व है, पर ऐसा भी नहीं है की गणित पक्ष को अछूता ही छोड़ दिया गया है. जहा आवश्यक समजा गया है वह गणना हेतु तालिकाए आदि दी गई है।



Tag cloud

Sign in