Books For You

Grow outward, Grow inward

Vinshottari Dashafal Nirnay by Krishnakant Bhardwaj

सूर्योदी ग्रहों के भावफल, राशिफल, दृष्टिफल, अवस्था फल, राजयोगों, धनयोगो, दरिद्रयोगों तथा अरिष्टादि योगों का समस्त शुभाशुभ फल जातक को संबंधित ग्रहो की दशाओ में ही प्राप्त होता है-ऐसी ज्योतिष की मान्यता है। इस पुस्तक में बृहत्पराशर होराशास्त्र, बृहज्जातक, सारावली, शंभुहोरा प्रकाश, जातक पारिजात, जातकभरणम्, सर्वार्थ चिन्तामणि, होरारत्नम, फलदीपिका, मानसागरी, जातक सर्दीप जैसे ग्रंथो का अध्यन-मनन करके जन्मकुंडली की विश्िंटरी दशाओ का विस्तार से अनुसन्धान किया गया है। ज्योतिषशास्त्र के जिज्ञासुओ के लिए संग्रह करने योग्य है यह पुस्तक.



Bruhad Jyotish Gyan By Krishnakant Bhardwaj

बृहद् ज्योतिष ज्ञान - पं. कृष्णकांत भारद्रज


ज्योतिष शास्त्र के विधार्थियों के लिए एक मास्टर गाइड

प्रस्तुत पुस्तक में है - पंचाग अध्ययन, जन्मपत्री की रचना, टेवा का निर्माण, मुहर्त निकालना, कुंडली का मिलाना एवं फलित कथन का संपूर्ण ज्ञान।



Tag cloud

Sign in