Books For You

Grow outward, Grow inward

The Art of Joyful Living (Marathi Edition) by Swami Rama

In The Art of Joyful Living, Swami Rama imparts a message of inspiration and optimism: that you are responsible for making your life happy and emanating that happiness to others. This book shows you how to maintain a joyful view of life even in difficult times.

It contains sections on transforming habit patterns, working with negative emotions, developing strength and willpower, developing intuition, spirituality in loving relationships, learning to be your own therapist, understanding the process of meditation, and more!



Nayak (Marathi Translation of Hero) By Rhonda Byrne

This is the Marathi translation of HERO by Rhonda Byrne. By following the journeys of twelve of the most successful people on the planet today. You will learn how to use your inner powers to overcome obstacles and to make impossible dreams come true.



Marji Ekbijani by Kajal Oza Vaidya

મરજી એક બીજાની - કાજલ ઓઝા વૈદ્ય


"કાજલ ઓઝા વૈદ્ય ગુજરાતના સૌથી વધારે વંચાતા લેખિકા છે. આ પુસ્તક તેમની ખૂબ જ લોકપ્રિય કોલમના લેખો છે. હજારો લોકો તેને પોંખી ચૂક્યા છે. આ પુસ્તકના લેખો તમને પણ તમારા જીવન પ્રત્યે, તમારી સાથે જોડાયેલા સંબંધો પ્રત્યે અને તમારા વિચારો પ્રત્યે પણ વિચારવા પ્રેરશે. આ પુસ્તક માત્ર વાંચવા જેવું જ નહીં, પરંતુ ભેટમાં પણ આપવા જેવું છે."



Kane and Abel (Gujarati Edition) by Jeffrey Archer

કેન એન્ડ એબેલ

લેખક - જેફ્રી આર્ચર


60 વર્ષમાં ફેલાયેલી આ એક યાદગાર કથા છે. જેમાં બે શક્તિશાળી વ્યક્તિઓ ધિક્કારના વાતાવરણથી જોડાયેલી છે. નસીબ તેમને બચાવવા અને અંતે એખબીજાનો નાશ કરવા ભેગા કરે છે. આ પુસ્તકની દસ લાખ નકલો પહેલાં અઠવાડિયે, વીસ લાખ નકલો એક મહિનામાં અને ત્રણ કરોડથી વધુ નકલો આજની તારીખ સુધીમાં વેચાઈ ચૂકી છે. એક અબજ લોકોએ આ પુસ્તક વાંચ્યું છે. પાને પાને જકડી રાખતી આ કથા ખરેખર વાંચવા જેવી છે.



Bolegi Na Bulbul Ab (Hindi Edition of I Shall Not Hear The Nightingale) by Khushwant Singh

बोलेगी न बुलबुल


बोलेगी न बुलबुल अब खुशवंत सिंह के उपन्यास ‘आई शैल नॉट हियर द नाइटिंगल’ का अनुवाद है। समय है 1942-43 जब भारतीय क्रांतिकारियों का ‘भारत छोड़ो’ आंदोलन अपनी चरम सीमा पर था। अंग्रेज़ों के प्रति वफ़ादार, फर्स्ट क्लास मजिस्ट्रेट सरदार बूटा सिंह अपने परिवार के साथ अमृतसर में रहते हैं और खबर है कि जल्द ही सम्मान-सूची में उनका नाम आने वाला है। लेकिन बूटा सिंह इस बात से बिलकुल बेखबर हैं कि उनका बेटा क्रांतिकारियों के एक गिरोह का नेता बन गया है और अंग्रेज़ों के खिलाफ बगावत करने में लगा है। बूटा सिंह को जब यह बात पता चलती है तो वह अपने बेटे को बेदखल कर देते हैं। भगवान में आस्था रखनेवाली बूटासिंह की पत्नी सभराई अपने वाहे गुरु से इस मुश्किल घड़ी का सामना करने के लिए अरदास करती है। एक तरफ बेटे की ज़िन्दगी जीवन और मृत्यु के बीच झूल रही है तो दूसरी तरफ उसके पति की इज़्ज़त का सवाल है। कैसे होगा इस कठिन घड़ी में बचने का उपाय...

जाने-माने लेखक और पत्रकार खुशवंत सिंह का यह उपन्यास भावनाओं की इस उधेड़बुन को बखूबी दर्शाता है।

1915 में हडाली गांव में खुशवत सिंह का जन्म हुआ, जो अब पाकिस्तान में है। अपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद, लंदन जा कर उन्होंने वकालत पढ़ी। कुछ समय तक वे वकील बने रहे, लेकिन वकालत में उनका मन नहीं लगा। लिखने-पढ्ने में उनकी रुचि थी, और जब उन्हें भारत सरकार की पत्रिका ‘योजना’ के संपादक के पद का अवसर प्राप्त हुआ, तो उन्होंने उसे तुरन्त स्वीकार कर लिया। उसके बाद वे नेशनल हेरल्ड और द हिन्दुस्तान टाइम्स के संपादक रहे। जब उन्होंने द इलस्ट्रेटेड वीकली ऑफ इंडिया के संपादन की बागडोर संभाली तो यह भारत की सबसे लोकप्रिय पत्रिका बन गई। इस के बाद खुशवंत सिह एक स्वतंत्र पत्रकार के रूप में लिखते रहे और उनका साप्ताहिक स्तंभ विद मैलिस टूवर्ड्स वन एण्ड ऑल देश के दर्जन से अधिक अखबारों और पत्रिकाओं में छपता है और उनके पाठकोँ को बहुत बेसब्री से इसका इंतज़ार रहता है।

ट्रेन टू पाकिस्तान, औरतें, समुद्र की लहरों में और सनसेट क्लब उनके अन्य प्रसिद्ध उपन्यास है जो हिन्दी में भी प्रकाशित हो चुके हैं।



Half Girlfriend (Hindi Edition) by Chetan Bhagat

हाफ गर्लफ्रेंड


चेतन भगत द्वारा लिखित उपन्यास आज की दुनिया में रिश्तों के नए और अलग आयामों में के बारे में जानकारी देता है.

उपन्यास माधव नाम के एक बिहारी लड़के के बारे में है जिसको दिल्ली की एक सुंदर और अमीर लड़की से प्यार हो जाता है जिसका नाम रिया है. दोनों के बीच कुछ बुनियादी मतभेद हैं. माधव की अंग्रेजी अच्छी नहीं है, लेकिन रिया उत्तम अंग्रेजी बोलती है. माधव रिया को अपनी प्रेमिका बनाना चाहता है लेकिन रिया सहमत नहीं होती है. वह उसे केवल दोस्त बनाना चाहती है लेकिन माधव निश्चित रूप से अधिक संबधं बनाना चाहता है|

रिया अंत में एक सुझाव देती है, सुझाव के अंतर्गत वह उसकी आधी-प्रेमिका बनने के लिए सहमत हैं. चेतन भगत ने एक सरल और सुंदर प्रेम कहानी प्रस्तुत की. जो आज के समय में रिश्तों की सभी बारीकियों के साथ आपकी भावनाओं को झकझोरती है. इसके अतिरिक्त यह कहानी आपको अपने व्यक्तिगत सपनों को साकार करने के लिए भी प्रेरित करती है|



Tag cloud

Sign in